जानिए क्या है प्रधानमंत्री स्टार्टअप योजना, सरकार देगी 10 लाख की मदद




Startup india scheme | startup india in hindi | स्टार्ट अप इंडिया स्टैंड अप इंडिया |  स्टार्ट अप इंडिया | startup india registration | Standup India Scheme in Hindi

क्या है स्टार्टअप योजना

स्टार्टअप इंडिया योजना से पहले हमें स्टार्टअप के बारें में ज़ान लेना चाहिए। स्टार्टअप का अर्थ एक नई कंपनी के रुप में किया जाता है जो किसी एक व्यक्ति या फिर एक समुह द्वारा चलाई जाती है। वहीं केंद्र सरकार का अहम उद्देश्य भी स्टार्टअप के साथ जोड़कर देखा गया है।

हमारे प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा युवाओं के रोजगार के लिए काफी योजनाओं को सामने लाया गया जैसे Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana, Pradhan mantri kaushal vikas yojana इत्यादि। उसी प्रकार हमारे प्रधान मंत्री द्वारा 16 जनवरी 2016 को Startup India Scheme को लाया गया था। Standup India Scheme in Hindi लेख में हम स्टार्ट अप इंडिया स्टैंड अप इंडिया के बारे में विस्तार से जानेंगे।

Startup India Scheme की कार्य योजना निम्नलिखित तीन स्तंभों पर आधारित निर्भर है

  • सरलीकरण।
  • वित्त पोषण और प्रोत्साहित करना।
  • Industry-Academia साझेदारी।

स्टार्ट अप इंडिया स्टैंड अप इंडिया योजना का मुख्य उद्देश्य:

Start-up India का मुख्या उद्देश्य निजी क्षेत्र और एंटरप्रेन्योरशिप में विकास लाना और बढ़ावा देना है ताकि निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर उत्पन्न हो सकें। देश  की उन्नति के लिए ज्यादा से ज्यादा युवाओं का रोजगार करना जरुरी है इस योजना में नयी जनरेशन और नयी सोच वाले के साथ युवाओ को जोड़ना है।

Startup India के अंतर्गत छोटे उद्योगों को आगे बढ़ने का अवसर देना है। छोटे उद्योगों को लोन की सुविधा, अनुकूल वातावरण एवं उचित मार्गदर्शन करना है। इस योजना का नियंत्रण The Department of Industrial Policy and Promotion (DIPP) द्वारा किया जा रहा है।पैनल द्वारा यह तय किया जाएगा की उम्मीदवार उसकी क्षमता के anurup कार्य कर रहा है या नहीं और यह भी देखेगी की आसानी से एवं काम समय में वित्त सहायता मिले।

स्टार्ट अप इंडिया स्टैंड अप इंडिया में बड़े संस्थान जैसे IIT, IIM जैसे संस्थानों को शुरुवात से ही मार्गदर्शन दिया जाए और शिक्षण एवं उद्योगिक संस्थानों को जोड़ा जाया ताकि युवाओं को बेहतर अवसर की प्राप्ति हो।

Startup India Registration । स्टार्टअप इंडिया पंजीकरण

स्टार्ट अप इंडिया में registration के लिए उनके नियम व शर्तों में आपका उद्द्योग सम्मिलित होना चाहिए। स्टार्टअप इंडिया पंजीकरण के लिए निम्नलिखित अंक का पालन करें:

  1. सरकार द्वारा दिए गए ऑफिसियल लिंक (https://www.startupindia.gov.in/) पर क्लिक करें।
  2. वेबसाइट खुलने के बाद (Register) बटन दबाएं।
  3. फार्म में पूछी हुई जानकारी को भरें और मांगे हुए दस्तावेजों को अपलोड करें।
  4. अंत में (Terms and condition) पढ़ कर फार्म सबमिट करें।

Start Up India Benefits । स्टार्ट अप इंडिया के लाभ | startup india loan Benefits

  • सरकार द्वारा 10,000 करोड़ की फंडिंग दी गई है।
  • पेटेंट पंजीकरण शुल्क घटाया गया।
  • 3 वर्ष के लिए टैक्स में छूट
  • योजना के अंतर्गत ५०० हज़ार स्कूल एवं 10 लाख बच्चों को प्रोत्सान योजना के अंतर्गत लिया गया है
  • देश का एक स्टार्ट उप हब के रूप में विस्तार करना है।
  • स्टार्ट अप इंडिया में पंजीकरण बेहद आसान।
  • युवाओं को उनके नवीनतम एवं रचनात्मक कार्यों के लिए आर्थिक रूप से मदद देना है।

स्टार्टअप इंडिया में शामिल कंपनी

  1. कपंनी प्राइवेट लिमिटिड होनी चाहिए जिसका कम्पनीज एक्ट के तह पंजीकरण होना अनिवार्य है। इसके अलावा पंजीकृत पार्टनरशिप फर्म या फिर पंजीकृतLLP हो।
  2.  कंपनी को स्थापित हुए 5 साल से अधिक समय न हुआ हो।
  3. स्टार्टअप कंपनी नवीनीकरण की दिशा में काम रही हो साथ ही स्टार्टअप में अधिक से अधिक तकनीकी गतिविधियों का प्रयोग किया जा रहा हो।

बता दें भारत 4,200 उद्यमियों के साथ विश्वभर में तीसरे स्थान पर है। भारत सिर्फ अमेरिका और ब्रिटेन जैसे बड़े देशों के मुकाबले ही स्टार्टअपस में पीछे है।

Thanks for reading our Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana article, If you have any questions please comment us below.

Please follow and like us:
Sending
User Review
5 (35 votes)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *